Wednesday, March 29, 2023
Home आरतियाँ

आरतियाँ

आरतियाँ

सरस्वती माता आरती : Saraswati Mata Aarti
सरस्वती माता आरती : Saraswati Mata Aarti : सरस्वती हिंदू धर्म की प्रमुख वैदिक और पौराणिक देवियों में से एक हैं। सनातन धर्म शास्त्रों में दो सरस्वती, एक ब्रह्मा पत्नी सरस्वती और एक ब्रह्मा पुत्री और विष्णु पत्नी सरस्वती का वर्णन मिलता है। ब्रह्मा की पत्नी सरस्वती सतोगुण महाशक्तियों...
Kali Mata Aarti : काली माता आरती
Kali Mata Aarti : काली माता आरती : काली या महाकाली हिन्दू धर्म की एक प्रमुख देवी हैं। यह सुन्दरी रूप वाली भगवती पार्वती का काला और भयप्रद रूप है, जिसकी उत्पत्ति दैत्यों , दानवों और राक्षसों के संहार के लिये हुई थी। उनको विशेषतः बंगाल, ओडिशा और असम...
गायत्री माता आरती : Gayatri Mata Aarti
गायत्री माता आरती : Gayatri Mata Aarti : गायत्री वह दैवी शक्ति है जिससे सम्बन्ध स्थापित करके मनुष्य अपने जीवन विकास के मार्ग में बड़ी सहायता प्राप्त कर सकता है। परमात्मा की अनेक शक्तियाँ हैं, जिनके कार्य और गुण पृथक् पृथक् हैं। उन शक्तियों में गायत्री का स्थान बहुत...
दुर्गा माता आरती : Durga Mata Aarti
दुर्गा माता आरती : Durga Mata Aarti : दुर्गा मां शक्ति हिन्दुओं की प्रमुख देवी हैं जिन्हें देवी, शक्ति और पार्वती,जग्दम्बा और आदि नामों से भी जाना जाता हैं। शाक्त सम्प्रदाय की वह मुख्य देवी हैं जिनकी तुलना परम ब्रह्म से की जाती है। दुर्गा को आदि शक्ति, प्रधान...
Laxmi Mata Aarti : लक्ष्मी माता आरती
Laxmi Mata Aarti : लक्ष्मी माता आरती : भगवान विष्णु की अर्धांगिनी माता लक्ष्मी का आह्वान भक्तजन साप्ताहिक दिन शुक्रवार, गुरुवार, वैभव लक्ष्मी व्रत तथा दीपावली में लक्ष्मी पूजन के दिन मुख्यतया अधिक करते हैं, जिसके अंतरगत भक्त माँ लक्ष्मी की आरती करते है। ( Laxmi Mata ) लक्ष्मी माता...
संतोषी माता आरती : Santoshi Mata Aarti
संतोषी माता आरती : Santoshi Mata Aarti : संतोषी माता सनातन धर्म में एक देवी हैं जो भगवान शंकर और देवी पार्वती की पोती हैं, उनके सबसे छोटे बेटे भगवान गणेश और भगवान गणेश की पत्नी रिद्धि, सिद्धि की बेटी, कार्तिकेय, अशोकसुंदरी, अय्यपा, ज्योति की भतीजी और मनसा और...
Maa Ganga Aarti : माँ गंगा आरती
Maa Ganga Aarti : माँ गंगा आरती : गंगा की उत्पत्ति के विषय में हिंदुओं में अनेक मान्यताएँ हैं। एक मान्यता के अनुसार ब्रह्मा जी के कमंडल का जल गंगा नामक युवती के रूप में प्रकट हुआ था। एक अन्य ( वैष्णव ) कथा के अनुसार ब्रह्माजी ने विष्णुजी...
शिव आरती - ॐ जय शिव ओंकारा
शिव आरती - ॐ जय शिव ओंकारा : भगवान शिव को शंकर (शंकर), भोलेनाथ (भोलेनाथ), नीलकंठ (नीलकंठ), महेश (महेश), महादेव (महावीर) के रूप में भी जाना जाता है और उन्हें त्रिमूर्ति के भीतर "विनाशक" के रूप में भी जाना जाता है, हिंदू त्रिमूर्ति जिसमें ब्रह्मा शामिल हैं और विष्णु।शिव...
Ganesh Arti : भगवान गणेश जी की पूरी आरती
Ganesh Arti : भगवान गणेश जी की पूरी आरती  गणेश भगवान सभी देवताओं से पहले पूजे जाते हैं। हर-पूजा पाठ का प्रारंभ उन्हीं के आवाह्न के साथ होता है। गणपति महाराज शुभता, बुद्धि, सुख-समृद्धि के देवता हैं। जहां भगवान गणेश का वास होता है वहां पर रिद्धि सिद्धि और...
आरती कुंजबिहारी की : Aarti of Kunj Bihari
आरती कुंजबिहारी की : Aarti of Kunj Bihari : कुंजबिहारी असल में यह आरती श्री कृष्णा जी की ही है और हम इनको कुंजविहारी के नाम से भी जानते है। ( Kunj Bihari ) कुंजबिहारी आरतीआरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की ॥ आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की ॥ गले...